Wednesday, 26 December 2012

poetry by sriram: भजन ....

poetry by sriram: भजन ....: (क्रिसमस की संध्या पर आप सभी प्रेमिओ को भेट ...) सेवा का थोड़ा व्रत रख लें..सेवा का मीठा फल चख लें ।।.                                    ...